Computer का वर्गीकरण | Classification Of Computer In Hindi

Classification_Of_Computer_In_Hindi

Computer का वर्गीकरण (Classification Of Computer In Hindi) दोस्तों, अगर आप पहले का पोस्ट नहीं पढ़े है तो इसके बाद उसे जरुर पढ़ ले। आज इस पोस्ट में आप सभी को  Computer का वर्गीकरण (Classification Of Computer In Hind) पढ़ने के लिए मिलेगा जैसे Supper Computer, Mainframe Computer, Mini Computer, Micro Computer के बारे में। उम्मीद करता हूँ की आप सभी को मेरा यह पोस्ट पसंद आएगा।

क्या आप ने इसको पढ़ा नहीं तो एक बार जरुर पढ़ले :-

Computer का वर्गीकरण (Classification Of Computer In Hindi)

Computer को उनकी प्रसंस्कर गति (Processing Speed), भंडारण क्षमता (Storage Capacity), और मूल्य (Price) के हिसाब से वर्गीकृत किया जाता है। आमतौर पर उच्च प्रसंस्करण गति (High Processing Speed) और बड़े आंतरिक भंडारण (Large Internal Storage) वाले Computer को एक बड़ा Computer कहा जाता है। आज कल Technology के लगातार विकास होने के कारन, हम हमेसा Computer की श्रेणियों (Categories Of Computers) में उलझे रहते हैं।

Computer की गति और Memory क्षमता के आधार पर Computer को चार मुख्य समूहों में वर्गीकृत (Classified) किया जाता हैं।

  1. Supper Computer
  2. Mainframe Computer
  3. Mini Computer
  4. Micro Computer

Supper Computer

Super Computer सबसे Powerful और सबसे Fast Computer है और सबसे महंगा Computer भी है। इसका विकास 1980 के दशक में हुआ था। इसका उपयोग बड़ी मात्रा में डेटा को संसाधित करने और जटिल वैज्ञानिक समस्याओं को हल करने के लिए किया जाता है। यह प्रति सेकंड एक खरब (Trillions) से अधिक गणना (Calculation) कर सकता है। इसमें बहुत सारे Processor लगे होते है जो Parallel जुड़े होते है। इसलिए इस Computer में Parallel Processing किया जाता है। एक Super Computer में हजारों Users एक ही समय में Connect हो सकते हैं और Supper Computer प्रत्येक User के काम को अलग-अलग करता है। Super Computer मुख्य रूप से उपयोग किये जाते है:

  • मौसम की भविष्यवाणी (Weather Forecasting)
  • परमाणु ऊर्जा अनुसंधान (Nuclear Energy Research)
  • मोटर वाहन डिजाइन (Automotive Design)
  • Online Banking
  • औद्योगिक इकाई को नियंत्रित करने के लिए (To Control Industrial Units)

Super Computer को उपयोग बड़ा Organizations, Research Laboratories, Aerospace Center, और बड़े Industrial Units में किया जाता है। Nuclear Scientist Super Computer का उपयोग Nuclear Fission और Fusions के Models बनाने और Analyze करने के लिए करते हैं। Super Computer का उदाहरण CRAY-1, CRAY-2, Control Data CYBER 205 और ETA A-10 इत्यादि।

Mainframe Computer

Mainframe Computer भी Large-Scale का Computer है लेकिन Supercomputer Mainframe Computer से ज्यादे बड़ा Computer है। यह भी बहुत महंगा Computer है। Mainframe Computer में विशेष रूप से Air-conditioner के साथ एक बड़े साफ कमरे की आवश्यकता होती है। इसलिए यह खरीदना और संचालित करना बहुत महंगा है। इसमें भी कई Processor होते है। बड़ी Mainframe System कई हजारों Uses की Input और Output आवश्यकताओं को आयोजित कर सकती है। उदाहरण के लिए, IBM, S/390 Mainframe एक साथ 50,000 Users का समर्थन कर सकता है। यह Users अक्सर Terminals या Personal Computer के साथ Mainframe का उपयोग करते हैं।

मूल रूप से Mainframe System के साथ दो प्रकार के Terminals का उपयोग किया जाता है।

  • Dumb Terminal: Dumb Terminal के पास अपना CPU और Storage Devices नहीं होता है। इस प्रकार का Terminal Mainframe System का CPU और Storage Devices प्रयोग करता है। आमतौर पर एक Dumb Terminal में Monitor एक Keyboard (और Mouse) होते हैं।
  • Intelligent Terminal: Intelligent Terminal के पास अपना खुद का Processor होता है और यह कुछ Processing Operations कर सकता हैं। आमतौर पर इस प्रकार के Terminal के पास अपना Storage नहीं होता है। आमतौर पर Intelligent Terminal का उपयोग Personal Computer के रूप में किया जाता है। एक Personal Computer एक Intelligent Terminal के रूप में Mainframe System से डेटा और अन्य सेवाओं तक पहुंचने की सुविधा देता है। यह स्थानीय स्तर पर Data को Store और Process करने में सक्षम बनाता है।

Mainframe Computers विशेस रूप से Word Wide Web पर Servers के रूप में उपयोग किए जाते हैं। Mainframe Computer का उपयोग बड़े Organization जैसे की Banks, Airlines और Universities इत्यादि में किये जाते हैं। जहा कई Users को लगातार Same Data को Access करते हैं, जो आमतौर पर एक या अधिक विशाल Database में Organized होता है। IBM मेनफ्रेम कंप्यूटर का प्रमुख निर्माता है। IBM S/390, Control Data CYBER 176 और Amdahl 580 इत्यादि Mainframe Computer का उदाहरण है।

Mini Computer

यह आकर में छोटे होते है, Processing Speed कम होती है और Mainframe के तुलना में इसका Price भी कम होता है। इन Computer को उस समय के अन्य Computer की तुलना में छोटे आकार के कारण Mini Computer के रूप में जाना जाता है। एक Mini Computer की क्षमताएं Mainframe Computer और Personal Computer के बीच होती हैं। इस Computer को Mid Range Computer भी कहा जाता है। Mini Computer का उपयोग Business, Education और अन्य Government Departments में किया जाता है। हालांकि कुछ Mini Computers एक ही Users के लिए Design किए गए हैं, लेकिन अधिकांश कई Users को संभालने के लिए Design किए गए हैं।

Mini Computers आमतौर Network Environment में Server के रूप में उपयोग किये जाते हैं और सैकड़ों Personal Computers Network से Connect किये जाते हैं जो Mainframe जैसे Server के रूप में कार्य करता है। Mini Computers का उपयोग Web Server के रूप में किया जाता है। Single Mini Computer का उपयोग जटिल Design कार्यों के लिए किया जाता है। पहला Mini Computer 1960 में Digital Equipment Corporation (DEC) द्वारा पेश किया गया था। उसके बाद IBM Corporation (AS/400 Computer), Data General Corporation और Prime Computer Mini Computer Design किया।

Micro Computer

Micro Computers को Personal Computers या PCs के रूप में भी जाना जाता है। इस प्रकार के Computer में Microprocessor का उपयोग किया जाता है। यह बहुत छोटे आकर का होता है और इसका Price भी बहुत कम होता है। IBM के द्वारा 1981 में पहला Micro Computer पेश किया गया था जिसका नाम IBM-PC रखा गया। उसके बाद बहुत Computer Hardware Companies IBM-PC का Design Copy किया। “PC-Compatible” शब्द Original IBM Personal Computer Design के आधार पर किसी भी Personal Computer को संदर्भित करता है।

PC और Apple सबसे लोकप्रिय Personal Computer के रूप में जाने जाते है। PC और PC-Compatible Computers में Apple की तुलना में विभिन्न Architectures वाले Processor होते हैं। ये दो प्रकार के Computer अलग-अलग Operating System का भी उपयोग करते हैं। PC और PC-Compatible Computers Windows Operating System का उपयोग करता है जबकि Apple Computers Macintosh Operating System (MacOs) का उपयोग करता है। आज अधिकांश बिकने वाले Micro Computer IBM-Compatible हैं। हालाँकि Apple Computer न तो IBM है और न ही Compatible है। यह Apple Computer के द्वारा बनाए गए अलग Family का Computer है।

Personal Computer दो Models में उपलब्ध है।

  • Desktop PCs
  • Tower PCs

Desktop Personal Computer सबसे Popular Model का Personal Computer है। Desktop Personal Computer का System Unit Desk या Table पर Flat रखा जाता है। Desktop Personal Computer में, आमतौर पर Monitor System Unit के ऊपर रखा जाता है।

Personal Computer का एक और Model जो Tower Personal Computer के रूप में जाना जाता है। Tower PC का System Unit Vertical रूप से Table के Desk पर रखी जाती है। आमतौर पर Desk Space को Free बनाने के लिए Tower Model का System Unit Floor पर रखा जाता है और Users अन्य Devices जैसे Printer, Scanner इत्यादि Desk पर रख सकता है। आज कल Computer Table उपलब्ध है जो इसी उद्देश से Design किया गया है। Tower Model अधिकतर घर और Office में उपयोग किया जाता है।

Micro Computer को आगे इन Categories में बांटा गया है।

  • Laptop Computer
  • Workstation
  • Network Computer
  • Handheld Computer

Laptop Computer

Laptop Computer को Notebook Computer के रूप में भी जाना जाता है। यह एक छोटे आकार का Notebook Computer है और एक Briefcase के अंदर फिट हो सकता है। Laptop Computer Special Battery से Operate किया जाता है और इसको Personal Computer के तरह जोड़ा नहीं जाता है। Laptop Computer Portable और पूरी तरह कार्य करने वाला Micro Computer हैं। यह अधिकतर Journey के दोरान उपयोग किया जाता है। यह विमान में अपनी गोद में इस्तेमाल किया जा सकता है। ऐसा इसलिए है क्योंकि इसे लैपटॉप कंप्यूटर कहा जाता है।

Laptop Computer का Memory और Storage Capacity लगभग Desktop Computer के बराबर होता है। इसके पास भी Hard Disc, Floppy Disk Drive, Zip Disk Drive, CD-ROM Drive, CD-Writer इत्यादि होते है। इसमें Built-In Keyboard और Pointing Device के रूप में Built-In Trackball होते है। Laptop Computer भी सबसे शक्तिशाली Personal Computer के समान Processing Speed के साथ उपलब्ध है। इसका मतलब यह हुआ की Personal Computer के कुछ Features Laptop Computer में भी होते है। Laptop Computer Personal Computer से अधिक महंगा होते है। अक्सर इस Computer का उपयोग व्यावसायिक यात्रा में किया जाता है।

Workstation

Workstation विशेष Single User Computer होते हैं जिनमें Personal Computer की तरह ही Features होते हैं लेकिन इसका Processing Speed Micro Computer या Mini Computer के बराबर होती है। Workstation Computer को Table के Desk पर Fit किया जा सकता है। Scientists, Architects और Graphic Designers अधिकतर इसी Computer का उपयोग करते हैं। Workstation Computers महंगा और शक्तिशाली होता है। Personal Computer की तुलना में इसके पास Advance Processor, अधिक RAM और Storage Capacity होता है। इसका उपयोग Single-User Applications के लिए किया जाता है लेकिन Computer Network पर इसका उपयोग Server और Web Server के लिए किया जाता है।

Network Computer

Network Computer भी Personal Computer के Version हैं लेकिन इसके पास Processing Power, Memory और Storage कम होता है। ये विशेष रूप से Network Environment के लिए Terminals के रूप में Design किये गए हैं। कुछ प्रकार के Network Computer के पास Storage नहीं होता है। Network Computer Network, Internet या Data Entry के लिए Intranet या Network पर Data Access करने के लिए Design किए गए हैं। Network Computer Data Store करने और Software का उपयोग करने के लिए Networks के Server पर निर्भर करते हैं। ये Computer कुछ Processing कार्य करने के लिए भी Network के Server का उपयोग करते हैं।

1990 के मध्य में कुछ PC Manufacturers के बीच Network Computer की Concept लोकप्रिय हुई। जिसके परिणाम स्वरुप बहुत Variation के Network Computer बहुत ही जल्दी उपलब्ध हो गए। Business में, Network Computer के Variations Windows Terminal, NetPCs और Diskless Workstations हैं। कुछ Network Computer सिर्फ Internet Access और Intranet के लिए Design किया गया है। इस Devices को कभी कभी Internet PCs, Internet Box आदि भी कहा जाता है। घर में कुछ Network Computer में Monitor सामिल नहीं होता है। ये घर के Television से जोड़े जाता है, जो की Output Device के रूप में उपयोग किये जाते है। Home-Based Network Computer का सबसे लोगप्रिय उधारण Web TV है। Web TV में एक विशेष Set-Up Box होता है जिसका उपयोग Internet से Connect करने के लिए किया जाता है और यह Simple Control का एक Set भी प्रदान करता है जो Users को Internet पर Navigate करने, Send And Receive E-mail और Television देखने के दौरान अन्य कार्य में सक्षम बनाता है। Network Computers Personal Computer की तुलना में खरीदने और Maintain करने के लिए सत्ता है।

Handheld Computer

मध्य 1990 के दशक में, कई नए प्रकार के छोटे Personal Computing Device पेश किये गए थे जिसे Handheld Computer कहा जाता है। इस प्रकार के Computer को Palmtop Computer भी कहा जाता है। Handheld Computer को कभी कभी Mini-Notebook Computer भी कहा जाता है। इस प्रकार के Computer को Handheld Computer का नाम दिया गया है क्योंकि इसे एक हाथ में Fit किया जा सकता है जबकि आप इसे दूसरे हाथ से Operate कर सकते हैं। क्योंक इसका आकर छोटा होता है इसलिए इसका Screen काफी छोटा होता है। इसी तरह इसमें एक छोटा Keyboard भी लगा होता है। Business Traveler के द्वारा Handheld Computer पसंद किए जाते हैं। इन Computer का उपयोग Mobile कर्मचारियों द्वारा किया जाता है, जैसे कि Meter Reader और Parcel Delivery वाले लोग जिनको काम के लिए एक स्थान से दूसरे स्थान पर जाना पड़ता है।

Handheld Computer का उधारण है:

  • Personal Digital Assistance (PDA)
  • Cellular Telephones
  • H/PC Pro Devices

Personal Digital Assistance (PDA)

PDA आज कल उपयोग किये जाने वाले सबसे लोकप्रिय Lightweight Mobile Device है। PDA विशेष Functions प्रदान करता है जैसे Notes बनाना, Telephone Number और Addresses Organize करना। अधिकांश PDA में विभिन्न Application Software जैसे Word Processing, Spreadsheet और Games आदि का भी उपयोग किये जाते है। कुछ PDA में Electronic Books Support करता है जो PDA का Screen पर Users पढ़ सकता है। बहुत PDA Web-Based होते हैं और Users E-mail Send/Receive कर सकता है और Internet Access कर सकता है। इसी तरह, कुछ PDA Telephone की क्षमता भी प्रदान करते हैं। Stylus PDA का मुख्य Input Device है। Stylus एक Electronic Pen है जो Ballpoint Pen के तरह दिखता है। इस Input Device का उपयोग Screen को Touch करके PDA में Notes लिखने और स्टोर करने के लिए किया जाता है। कुछ PDA में Voice Input भी Support करता है।

Cellular Phones

Cellular Phone Web-Based Telephone है जिसमे Analog और Digital Device दोनों का Features होता है। इसे Smart Phone भी कहा जाता है। Basic Phone की तुलना में, Cellular Phone E-mail Send/Receive करने और Internet Access करने का अनुमति भी प्रदान करता है।

H/PC Pro Devices

H/PC Pro Device Handheld Technology में नया विकास है। यह System PDA से बड़ा होता है लेकिन उतना भी बड़ा नहीं होता है जितना Notebook PCs है। इस Devices में PDAs और Notebook PCs के बीच की विशेषताएं होते हैं। H/PC Pro में Full-Size का Keyboard होता है लेकिन इसके पास Disk नहीं होता है। इस Systems में बहुत कम Storage Capacity और Processor की धीमी गति के साथ RAM भी है।

एक बार जरुर पढ़ले :-

प्रिय दोस्तों उम्मीद करता हूँ की आप सभी को मेरा पोस्ट Computer का वर्गीकरण (Classification Of Computer In Hindi) पसंद आया होगा। आप को यह पोस्ट कैसा लगा Comment Box में Comment कर के जरुर बताये और अपने दोस्तों को भी Share करे। अगर इस पोस्ट से Related आप के पास कोई Question है तो आप Comment Box के द्वारा हम से पूछ सकते है| बस आज के लिए इतना ही मिलते है नए पोस्ट में नए Topic के साथ।

||| धन्यवाद |||

Subscribe LocalTrix For Latest Updates

About the Author: Local Trix

LocalTrix is the best way to learn online.

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: DMCA Protected !!